Thursday, August 18, 2022
HomeHealthaloe vera juice ke fayde | एलोवेरा जूस लाभ

aloe vera juice ke fayde | एलोवेरा जूस लाभ

aloe vera juice ke fayde:- एलोवेरा देखने में भले ही छोटा-सा पौधा हो, लेकिन इसके फायदे उतने ही बड़े हैं। एलोवेरा के ढेरों फायदे हैं फिर चाहें आप उसे सेहत के लिए, स्किन केयर के लिए, बालों के लिए इस्तेमाल कर रहे हों। एलोवेरा आपके लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकता है। एलोवेरा जूस लाभ ढेरों हैं। जिनके बारे में हम आपको आगे इस पोस्ट में बताएंगें।

लेकिन पहले हम एलोवेरा के नाम जान लेते है। जो अलग अलग प्रांतों अलग अलग नामों से जाना जाता है।  जैसे –

  • हिंदी में घृतकुमारी, घी ग्वार
  • तेलुगु में कलाबंदा
  • तमिल में कतरलाई
  • मलयालम में कुमारी
  • कन्नड़ में लोलिसारा
  • मराठी में कोरफाड़ा
  • बंगाली में घृतकुमारी
  • अंग्रेजी में  Aloe Vera

एलोवेरा जूस के फायदे | elovera joos ke fayde

एलोवेरा जूस लाभ, एलोवेरा के जूस में वो हर प्रकार के पोषक तत्व होते है जो हमारे अंगों के विकाश में और उनके पोषण के लिए उपयोगी होते हैं। एलोवेरा में विटामिन, फोलिक एसिड, आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते है। और सभी जानते है हमरी स्किन, और बालों के लिए एलोवेरा कितना लाभकारी है।

aloe vera juice ke fayde

एलोवेरा हमारे पेट साफ करने, स्किन के अलावा डायबिटीज और कैंसर जैसी बीमारियों में भी फायदेमंद है। इसके अलावा आप ड्राई स्किन, सनबर्न और बालों की प्रॉब्लम्स में भी इसे इस्तेमाल कर सकते हैं।

शायद यही कारण है कि, आयुर्वेदिक ग्रंथों के अलावा, बाबा रामदेव भी रोज हमें 30 ml एलोवेरा के जूस के सेवन की सलाह देते हैं। एलोवेरा जूस का सेवन न सिर्फ शरीर के भीतर के फंक्शन को सुधारता है। बल्कि स्किन और बालों की सेहत के लिए बहुत गुणकारी होता है। आइये जानते है एलोवेरा जूस पीने के तरीके और एलोवेरा जूस के लाभ के विषय मे।

1. वज़न कम करने के लिए :-

हमारे आसपास नज़र उठाकर देखिए। अपने वर्कप्‍लेस यहां तक कि कॉलेज में भी लोग आपको मोटापे से परेशान दिखेंगे। इन सारी मुसीबतों की वजह हमारी बिगड़ी हुई लाइफस्‍टाइल और खाने की गलत आदतें हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, बिगड़ी लाइफस्टाइल के कारण ही हमारे देश की 5% से ज्यादा आबादी मोटापे का सामना कर रही है। एलोवेरा एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होता है, ये हमारे वज़न को घटाने में मददगार साबित होते हैं।

एक स्टडी के मुताबिक, एलोवेरा के सेवन से ज्यादा खाने से होने वाले मोटापे को कम करने में मदद मिलती है। ये हमारे शरीर में जमे हुए फैट को तेजी से बर्न करता है। इसके अलावा शरीर में फैट जमने की प्रक्रिया भी कम होने लगती है।एलोवेरा डाइबिटीज और मोटापे से परेशान लोगों के लिए भी फायदेमंद है।

2. बीमारियों से लड़ता है एलोवेरा:- 

अक्सर मौसम बदलने पर वायरल बुखार जैसी बीमारियां हमें जकड़ लेती हैं। ऐसे में एलोवेरा का सेवन हमें फायदा पहुंचा सकता है। एलोवरा के सेवन से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। एलोवरा से कोशिकाओं में नाइट्रिक ऑक्साइड और साइटोकिन्स का उत्पादन बढ़ जाता है। इससे हमारा शरीर बीमारियों से बेहतर तरीके से लड़ पाता है।

3. पाचन क्रिया के लिए एलोवेरा |
अक्सर मसालेदार तीखा खाना खाने के बाद यदि आपका पेट ख़राब हो जाता है। और गैस और कब्ज या पेट में जलन बनी रहती है तो ऐसे में एलोवेरा जूस आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। लैक्सटिव पाए जाने के कारण एलोवेरा जूस पाचन तंत्र के बहुत लाभकारी है। एक शोध के अनुसार एलोवेरा जूस हमारे पेट और आतों को डिटॉक्स करता है। और पेट की फूलन, पेट दर्द जैसी समस्याओं में कमी लता है। एलोवेरा पेप्टिर अल्सर में एंटी-बैक्टीरियल जैसे काम कर लाभ पहुंचता है। एलोवेरा के सेवन की सबसे बढ़िया बात यह है की इसका कोई साइडइफेक्ट नहीं होता है।
4. मानसिक स्वास्थ्य के लिए |
एलोवेरा में सैक्राइडस पाया जाता है जिस कारण हमारे दिमाग को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है। और इसके कारण हमारी याददास्त में सुधर होता है इसके अलावा दिमागी टेंसन में भी काफी कमी आती है। और मन शांत और स्वस्थ रखने में एलोवेरा जूस काफी मददगार है। डिप्रेशन से जूझ रहे लोगों को अपने भोजन में एलोवेरा को किसी भी रूप में शामिल करना चाहिए।

 

5. सूजन में एलोवेरा के फायदे |

हमारे शरीर में सूजन अक्सर ऑक्सीडेटिव नुकसान (oxidative damage) की वजह से होती है। इसके पीछे हमारे शरीर में मौजूद फ्री रेडिकल्स भी जिम्मेदार होते हैं। फ्री रेडिकल्स अक्सर हमारी बॉडी सेल्स को नुकसान पहुंचाते हैं। एलोवेरा में काफी मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट होता है। ये एंटी-ऑक्सीडेंट सूजन को कम करने में मदद करते हैं। एलोवेरा का जूस पीने से शरीर की सूजन में कमी आती है।

6. गठिया में फायदेमंद है एलोवेरा |

बढ़ती उम्र में हमारी हड्डियां कमज़ोर होने लगती हैं। हड्डियों की कमजोरी के कारण लोगों को जोड़ों में दर्द या ​गठिया की समस्या भी हो सकती है। एलोवेरा जोड़ों के दर्द में काफ़ी फायदेमंद होता है। एक अध्ययन के मुताबिक़, एलोवेरा ऑस्टियोआर्थराइटिस (osteoarthritis) के इलाज में बेहद कारगर है।

हालांकि, ऑस्टियोआर्थराइटिस में एलोवेरा जूस के इस्तेमाल पर और अध्ययन करने की ज़रूरत है। लेकिन, ये बात साबित हो चुकी है कि एलोवेरा में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण के कारण इसका जूस हड्डियों के दर्द से राहत पहुंचाता है।

7. कोलेस्ट्रॉल फाइटर है एलोवेरा |

शरीर में जमने वाला एक्स्ट्रा कोलेस्ट्रॉल ही मोटापे की मुख्य वजह है। एलोवेरा के सेवन से कोलेस्ट्रॉल की परेशानी से राहत मिलती है। कई स्टडी से पता चला है कि एलोवेरा हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकता है। इसलिए अगर रोज एलोवेरा का जूस पिया जाए तो कोलेस्ट्रॉल को आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है।

8. स्वस्थ दिल के लिए एलोवेरा |

भारतीय लैब में चूहे पर किए गए एक्सपेरिमेंट से पता चला है कि एलोवेरा दिल की समस्याओं, खासकर डॉक्सोरूबिसिन (Doxorubicin) के साइड इफैक्ट से हमें बचने में मदद करता है। एक अन्य स्टडी के मुताबिक, हाई ब्लड प्रेशर के जिन मरीजों ने 12 हफ्तों तक एलोवेरा का सेवन किया उनकी बीमारी में 15 प्रतिशत तक का सुधार पाया गया।

वहीं एलोवेरा को बतौर सप्लीमेंट लेने पर डायबिटीज़ के मरीजों के ब्लड प्रेशर में गिरावट आती है। एक स्टडी बताती है कि एलोवेरा एथेरोस्क्लेरोसिस (atherosclerosis) की रोकथाम में भी असरदार है। एथेरोस्क्लेरोसिस में धमनियां सिकुड़ जाती हैं और शरीर में रक्त का दौड़ान कम हो जाता है, जिससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।

9. डायबिटीज़ में रामबाण है एलोवेरा |

डायबिटीज़ इन दिनों बेहद आम बीमारी हो गई है। किसी ज़माने में बुजुर्गों का रोग मानी जाने वाली ये बीमारी अब नवजात बच्चों तक को चपेट में लेने लगी है। डायबिटीज़ से बचने के लिए योग और खाने-पीने पर कंट्रोल रखना बहुत जरूरी है। डायबिटीज के मरीज अगर एलोवेरा जूस का सेवन करते हैं तो उन्हें काफी फायदा मिल सकता है।

एक स्टडी में पाया गया है कि रोज़ एलोवेरा का जूस पीने वाले टाइप 2 डायबिटीज़ के मरीज़ों के भी ब्लड शुगर में गिरावट आती है। इसके अलावा फाइटोथेरेपी रिसर्च में प्रकाशित एक स्टडी में इसकी पुष्टि की गई है । इसके अलावा, टाइप-1 डायबिटीज़ वाले मरीज़ भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

10. एलोवेरा मुख स्वास्थ्य के लिए लाभकारी |

मुंह में बीमारी पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करने में एलोवेरा बेहद कारगर साबित हुआ है। भारत में की गई एक रिसर्च से पता चला है कि दांतों के इलाज़ में भी एलोवेरा कारगर साबित हो सकता है। एलोवेरा को आप माउथ वॉश के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसका कोई साइड इफ़ेक्ट भी नहीं पाया गया है।

एलोवेरा में जलन को रोकने वाले गुण होते हैं, जो गंदगी जमने के कारण मसूड़ों में आई सूजन को कम करने में मदद करता है। एलोवेरा में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल गुण दांतों में सड़न पैदा करने वाले बैक्टीरिया को रोक सकते हैं। एलोवेरा का जूस पायरिया में भी मददगार साबित हो सकता है।

11. सर्दी-ज़ुकाम के लिए एलोवेरा |

सर्दी जुक़ाम होने पर आमतौर पर हम लोग कफ़ सीरप लेना बेहतर समझते हैं। लेकिन इससे सेहत पर कई खराब असर भी पड़ते हैं। इसलिए बेहतर है कि हम लोग अपनी बीमारी दूर करने के लिए प्रकृति का ही सहारा लें। सर्दी होने पर एलोवेरा जूस काफी फायदेमंद साबित होता है।

बदलते मौसम के कारण सूखी खांसी की समस्या होने पर एलोवेरा का उपयोग किया जा सकता है। आप एक गिलास एलोवेरा जूस में अगर एक या दो चम्मच शहद मिलाकर रख लें। इस मिश्रण को दिन में दो से तीन बार पिएं। सूखी खांसी जड़ से ठीक हो जाएगी।

12. कब्ज़ के लिए एलोवेरा |

रोज बाहर का चटपटा और मिर्च-मसालेदार खाना खाने वालों को अक्सर पेट से जुड़ी बीमारियां जैसे कब्ज़ हो जाती हैं। कब्ज़ होने पर अगर एलोवेरा का जूस लिया जाए, तो इसके जबरदस्त फायदे मिलते देखे गए हैं। लेकिन एलोवेरा जूस का ज़रूरत से ज़्यादा सेवन कई बार नुकसानदेह भी साबित हो सकता है।

आयुर्वेद के मुताबिक, एक बार में एलोवेरा जेल की अधिकतम 30 ML मात्रा ही सेवन की जा सकती है। इसे दिन में अधिक से ​अधिक दो बार लिया जा सकता है। इससे ज्यादा सेवन करने पर ये आपकी हालत को खराब भी कर सकता है। इसलिए एलोवेरा का उपयोग सीमित मात्रा में ही करें। इस बारे में अपने डॉक्टर से सलाह लेना भी जरूरी है।
 
एलोवेरा जेल और एलोवेरा का जूस प्राचीन भारतीय औषधि है। इसका प्रयोग भारत में हजारों वर्षों से होता रहा है। हमारे आयुर्वेदिक ग्रंथों में भी इसके उपयोग के विषय में कई लाभ, सावधानियों और जरूरी बातों के बारे में बताया गया है। इन बातों को अपनाकर आसानी से इसका उपयोग अपनी रोजमर्रा के जीवन में किया जा सकता है।

हर वो चीज़ जिसके फायदे हों उसके कुछ नुकसान भी होते हैं। फिर बात चाहें लहसुन के फायदे की हो या फिर अलसी के फायदे की। एलोवेरा से होने वाले नुकसानों के बारे में हम आपको अपने अगले आर्टिकल में जानकारी देंगे।

मुझे उम्मीद है आपको यह जानकारी एलोवेरा जूस के फायदे, एलोवेरा जूस लाभ पसंद आई होगी। ऐसी ही और जानकारी के लिए आप हमारे साथ बने रहें। और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। आपने हमें इतना समय दिया आपका बहुत धन्यवाद।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular