Thursday, August 18, 2022
Homehindilekhछिपकली का गिरना शुभ या अशुभ | दीवार से छिपकली का गिरना

छिपकली का गिरना शुभ या अशुभ | दीवार से छिपकली का गिरना

 छिपकली का गिरना शुभ या अशुभ

दीवार से छिपकली का गिरना:- छिपकली को तो सभी ने देखा होगा, यह बड़ी ही आसानी से आपको घरों की दीवारों पर चलती हुई नजर आ जाएगी। छिपकली के पैरों में बहुत ही छोटे स्पिंच जैसे पार्ट होते है और इसके नाखून इसे दीवारों में अच्छी मजबूत पकड़ बनाने में सहायता करते है। जिस कारण यह दीवारों या छतों से नीचे नहीं गिरती। छिपकली का गिरना ऐसा बहुत ही कम होता है की, कोई छिपकली दीवार से नीचे गिरे। 

और ऐसा तो बहुत ही ज्यादा कम देखा जाता है की छिपकली किसी इंसान के शरीर पर गिर जाए। लेकिन यदि क्या होगा जब कोई छिपकली आपके शरीर पे गिरे, chipkali ka girna इस पर आप कैसा रिएक्ट करेंगें। साधारण सी बात है आप डर जाएंगे। लेकिन क्या आपको पता है के छिपकली के आपके शरीर के किसी खास हिस्से में गिरने के कुछ शुभ मतलब भी होते है। क्या ये मतलब आपको पता है? यदि नहीं है तो हमारे इस लेख में हमने यही बताया है की, आपके बॉडी पर  छिपकली का गिरना शुभ या अशुभ होता है।

 दीवार से छिपकली का गिरना  (chipkali ka girna shubh hai ya ashubh)

chipkali-ke-shubh-ashubh-sanket

छिपकली का सामने गिरना, पुराने समय से ही हमारे बुजुर्ग लोग शुभ और अशुभ शगुन की धारणाएँ मानते आ रहे है। और आज भी लोग इन्हें उसी तरह मानते हैं जैसे पुराने ज़माने में हमारे दादा दादी ,या नाना नानी मानते थे। जैसे की यदि बिल्ली रास्ता काट से तो बहुत ऐसे लोग है जो अपना रास्ता बदल देते है। जैसे बिल्ली से जुड़े शगुन अपसगुन है ,उसी तरह छिपकली से जुड़े भी कुछ अच्छी बुरी मान्यताएं है। तो चलिए जानते है दीवार से छिपकली का गिरना शुभ है या अशुभ। 

दीवार से छिपकली का गिरना:- दीवार से छिपकली का गिरना वैसे तो अशुभ माना जाता है। लेकिन, शास्त्रों के अनुसार यह इस बात पर निर्भर करता है कि समय, स्थान, और परिस्थिति कैसी है। 

 

छिपकली का गिरना

 

आइए जानते है की छिपकली का गिरना हमें क्या संकेत देता है?

1. भौंह पर छिपकली गिरना –  धन हानि।

2. दाहिनी आंख पर छिपकली गिरना – किसी दोस्तत से मुलाकात होगी।

 3. बाईं आंख पर छिपकली गिरना  –  जल्द ही कोई बड़ी हानि होगी।

4. कंठ पर छिपकली गिरना – शत्रुओं का नाश होगा।

5. दाहिने कंधे पर छिपकली गिरना  –   विजय की प्राप्ति 

 6. बाएं कंधे पर  छिपकली गिरना  –   नए शत्रु बनते हैं।

 7. दाहिनी भुजा पर छिपकली गिरना  – तो धन लाभ मिलता है।

8. बायीं भुजा पर छिपकली गिरना  –  संपत्ति छिनने की आशंका बढ़ती है। 

9. दाहिनी हथेली पर छिपकली गिरना –   कपड़े मिलते हैं। 

10. बाईं हथेली पर छिपकली गिरना –  धन की हानि होती है।

11. छाती के दाहिनी ओर छिपकली गिरना –  जल्द ही ढेर सारी खुशियां मिलती हैं जबकि बाईं ओर गिरने से घर में ज्यादा क्लेश होता है।

 12. पेट पर छिपकली गिरना – आभूषण की प्राप्ति होती है।

13. कमर के बीच में अगर छिपकली गिरे तो आर्थिक लाभ मिलता है। पीठ पर दाहिनी ओर छिपकली गिरने से सुख मिलता है जबकि बाईं तरफ छिपकली गिरने का मतलब रोग का दस्तक देना है। पीठ पर बीच में अगर छिपकली गिरती है तो घर में कलह होती है।

14.नाभि पर छिपकली गिरने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

15. दाहिनी जांघ पर छिपकली गिरने से सुख मिलता है। वहीं बाईं जांघ पर छिपकली गिरने से दु:ख ही दु:ख यानी शारीरिक पीड़ा।

16. दाहिने घुटने पर छिपकली गिरने से यात्रा का संयोग बनेगा।

 17. बाएं घुटने पर छिपकली गिरने का मतलब बुद्धि की हानि है।

 18. दाएं पैर या दाएं एड़ी पर छिपकली गिरना यानी यात्रा से लाभ मिलता है।

 19.बाएं पैर या बाईं एड़ी पर छिपकली गिरने से बीमारी या घर में कलह होगी, दु:ख मिलेगा। दाएं पैर के तलवे पर छिपकली गिरने का मतलब ऐश्वर्य की प्राप्ति है। वहीं बाएं पैर के तलवे पर छिपकली गिरने का मतलब व्यापार में हानि होगी।

20. नए घर में प्रवेश करते समय यदि गृहस्वामी को छिपकली मरी हुई व मिट्टी लगी हुई दिखाई दे तो उसमें निवास करने वाले लोग रोगी हो सकते हैं । (इस अपशकुन से बचने के लिए पूरे विधि-विधान से पूजन करने के बाद ही नए घर में प्रवेश करना चाहिए)।

21. अगर छिपकली समागम करती मिले तो किसी पुराने मित्र से मिलना हो सकता है।

22. लड़ती दिखे तो किसी दूसरे से झगड़ा संभव है और अलग होती दिखे तो किसी प्रियजन से बिछुडऩे का दु:ख सहन करना पड़ सकता है।

 23. दिन में भोजन करते समय यदि छिपकली का बोलना सुनाई दे शीघ्र ही कोई शुभ समाचार मिल सकता है या फिर कोई शुभ फल प्राप्त हो सकता है। (हालांकि ये घटना बहुत कम होती है क्योंकि छिपकली अधिकांश रात के समय बोलती है।)

 24. छिपकली अगर माथे पर गिरती है तो संपत्ति मिलने की संभावना बढ़ जाती है।

 25. छिपकली  बालों पर गिरती है, इसका मतलब मृत्यु सामने खड़ी है।

26. दाहिने कान पर छिपकली का गिरना यानी आभूषण की प्राप्ति होगी।

 27. बाएं कान पर छिपकली का गिरना यानी आयु वृद्धि।

 28. नाक पर छिपकली गिरना यानी जल्द ही भाग्योादय होगा।

 29. मुख पर छिपकली गिरना यानी मधुर भोजन की प्राप्ति होगी।

30. बाएं गाल पर छिपकली गिरना यानी पुराने मित्र से मुलाकात होगी। 

31. दाहिने गाल पर छिपकली गिरना यानी आपकी उम्र बढ़ेगी।

32.  गर्दन पर छिपकली गिरने का मतलब यश की प्राप्ति होगी।

 33. दाढ़ी पर छिपकली गिरने का मतलब आपके सामने जल्दा ही कोई भयावह घटना हो सकती है।

 34. मूंछ पर छिपकली गिरना यानी सम्मापन की प्राप्ति।

मुझे उम्मीद है आपको ये सभी शकुन एवं अपशकुन के बारे में जानने की लालसा इस लेख से पूरी हुई होगी हमने आपके लिए सपनों का मतलब, शरीर के अंगों में तिल का अर्थ  और शरीर के किस अंग के फड़कने का क्या फल,मतलब होता है पर भी आर्टिकल लिखा है उन्हें पढ़कर भी आप अपना ज्ञान बढ़ा सकते है।  

आपने हमे इतना समय दिया आपका बहुत धन्यवाद। 

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular