Wednesday, August 10, 2022
Homehindilekhगाय से सम्बंधित शुभ व अशुभ संकेत | gaay ke shubh va...

गाय से सम्बंधित शुभ व अशुभ संकेत | gaay ke shubh va ashubh sanket

 गाय के शुभ अशुभ संकेत 

gaay ke shubh va ashubh sanket:- गाय भारतीय संस्कृति में माता के समान मानी जाती है। गाय का हिन्दू धर्म में एक विशेस महत्व है। गाय की सेवा करना उन्हें हरी घाँस खिलाना शुभ माना जाता है। सभी भारतीय गाय के दूध को बहुत पवित्र मानते है। और इसका अनादर नहीं करते है। गाय सभी के लिए सौभाग्य लती है। तो आज जानते है की गया के किन किन संकेतों पर आपको ध्यान देना चाहिए ताकि वो आपके लिए शुभ फल या शुभ समय ला सकें। 

gaay ke shubh va ashubh sanket

गाय के शुभ लक्षण

गाय के इन संकेतों  पर आपको जरूर ध्यान देना चाहिए।

  1. सफर करते समय यदि बांई ओर से गाय की आवाज सुनाई दे तो यह शुभ माना जाता है।
  2. रात के समय अगर गाय हुंकार भरती या पुकारती है, तो यह ही शुभ शकुन माना जाता है।
  3.  किसी को गाय आधी रात में रंभाती या रोती हुई दिखाई दे, तो सफर में डराने वाली परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है।
  4. यात्रा पर जा रहे व्यक्ति को गाय अपने खुरों से जमीन खुरचती दिखाई दे तो आने वाले समय में उसे बीमारी का सामना करना पड़ सकता है।
  5. यात्रा पर जाते समय गाय रोती हुई दिखाई दे, तो यात्री को मृत्यु के समान कष्ट होने की आशंका रहती है।
  6. यात्री को गाय अपने बछड़े से मिलने के लिए रंभाती दिखाई दे, तो उसकी सभी इच्छाएं पूरी होने के योग बनते हैं।
  7. जब गाय के ऊपर बहुत सारी मक्खियां बैठी हुई दिखाई दें, तो अच्छी वर्षा होने की संभावना मानी जाती है।
  8. यात्रा करते समय यदि किसी व्यक्ति को दोनों ओर भैंस दिखाई दे, तो यात्री की मृत्यु होने का भय रहता है।
  9. यदि किसी व्यक्ति को सांड अपनी बांई ओर से दाहिना ओर जाता हुआ दिखाई दे तो यह शुभ शकुन माना जाता है।
  10.  यदि किसी व्यक्ति को यात्रा पर जाते समय सांड अपने सींग या खुर से जमीन खोदता हुआ दिखाई दे तो यह भी शुभ शकुन माना जाता है।

६ थन वाली गाय शुभ होती है या अशुभ

आपको बता दें की गाय में देवी देवताओं का वास होता है। और गाय के दुध को तो अमृत माना गया है। फिर क्या फर्क पड़ता है की गया के ६ थन है या फिर चार। गाय सदैव ही शुभ होती है। गौ सेवा पुण्य देने वाला होता है। स्वयं भगवान श्री कृष्ण अपने काल में गौ सेवा कर चुके है। जिस भी घर में गाय को पालते हाउ उस घर के वास्तु दोष स्वतः ही नस्ट हो जाते है। 

मुझे उम्मीद है आपको ये सभी शकुन एवं अपशकुन के बारे में जानने की लालसा इस लेख से पूरी हुई होगी हमने आपके लिए सपनों का मतलब, शरीर के अंगों में तिल का अर्थ  और शरीर के किस अंग के फड़कने का क्या फल,मतलब होता है पर भी आर्टिकल लिखा है उन्हें पढ़कर भी आप अपना ज्ञान बढ़ा सकते है।  

आपने हमे इतना समय दिया आपका बहुत धन्यवाद। 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular