Monday, August 8, 2022
HomeCareerएक अच्छा सेल्समैन कैसे बने | good salesman tips in hindi

एक अच्छा सेल्समैन कैसे बने | good salesman tips in hindi

एक अच्छा सेल्समैन कैसे बने – मार्केट में घूम-घूमकर किसी कंपनी का सामान बेचने वाले सेल्समेन का काम बहुत कठिन होता है। हालाँकि इस फील्ड में पैसा भी बहुत है लेकिन मेहनत और चुनौतियाँ ऐसी हैं की बहुत कम लोग इस फील्ड में जाना चाहते हैं और जाते भी हैं तो मजबूरी में।लेकिन आज के समय में सेल्स केवल घर घर जाकर करने तक ही सिमित नहीं रह गया है। 

बल्कि आज लोग इंटरनेट के माध्यम से सोशल मिडिया मटकेटिंग के माध्यम से भी सेल्स कर मोटा मुनाफा कमा रहे है। सेल्स कैसे बढ़ाएं ,सेल्स टेक्निक और सोशल मिडिया मार्केटिंग के बारे में हम किसी और पोस्ट में बात करेंगें। अभी जानते है की,एक अच्छा सेल्समैन कैसे बने | 

लोग नहीं जानते हैं क्योकि वो समझते नहीं की एक अच्छा सेल्समेन बनने के लिए हमे क्या करना चहिये और इसके लिए कौन सी जरूरी बातें हैं। आइये हम आपको बताते हैं। Salesman Kaise Bane.

एक अच्छा सेल्समैन कैसे बने | 

सेल्समेन बनना एक बहुत ही आसान काम है क्योंकि इसमें आपको पहले से बने किसी प्रोडक्ट या सर्विस को बेचना होता है लेकिन दूसरी तरफ देखा जाए तो सेल्समैन बनना एक बहुत ही मुश्किल का काम है। 

good salesman tips

क्योंकि आप किसी प्रोडक्ट ओर सर्विस को तब ही बेच सकते हैं जब आप किसी व्यक्ति को उस प्रोडक्ट या सर्विस को खरीदने के लिए मना ले. यह एक सबसे अहम चीज होती है जो हर एक सेल्समैन अपनी पूरी लाइफ में सीखता है, किसी भी व्यक्ति को product या service खरदने के लिए आसानी से मना लेना.

अगर कोई व्यक्ति इस काम को आसानी से कर लेता है वह व्यक्ति एक सेल्समैन बन सकता है और यहीं एक सेल्समेन बनने का मूल मंत्र है

तो अगर आपको लगता है, कि आप भी किसी भी व्यक्ति को बड़ी ही आसानी से मना सकते है, तो जाहिर सी बात है, आप भी एक सेल्समैन बन सकते हैं |

सेल्समैन का क्या मतलब है?

सेल्समैन (Salesman) : जो भी व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति को प्रोडक्ट, सर्विस या विचार बेचता है वह एक सेल्समैन कहलाता है। सेल्समैन की सफलता उसके बेचने की योग्यता पर निर्भर करती है।

एक अच्छा सेल्समेन बनने के लिए बहुत जरूरी हैं ये बातें

सही कंपनी का चुनाव

अगर आप एक अच्छा सेल्समेन बनना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको एक सही कंपनी चुननी होगी। वो कंपनी जो रजिस्टर्ड हो और जिसका उत्पाद जनता के बीच बेचा जा सके। कंपनी का बैकग्राउंड अच्छा हो और कंपनी का विजन भी शानदार हो। उत्पाद में दम हो और जनता के इस्तेमाल वाली चीज हो।

जब आप सही कंपनी का चुनाव करते हैं तो आप मार्केट में जाने से घबराते नहीं है और इस फील्ड में सफल होने का पहला मन्त्र यही है की आपको मार्केट से नहीं घबराना।

उत्पाद में भरोसा

अब हमने कंपनी तो ज्वाइन कर ली लेकिन हमे इसके प्रोडक्ट पर भरोसा नहीं होता। कई बार सेल्समेन खुद कहता है की “अरे इस घटिया प्रोडक्ट को कौन खरीदेगा यार”।

अगर आप ऐसा कर रहे हैं तो आप गलत है क्योकि आप जो चीज लोगो के बीच बेचने जा रहे हैं आपको ही उसमे भरोसा नहीं है। इससे आपकी आँखों में भी सामने वाले कस्टमर को भरोसा नहीं दिखेगा और वो आपका सामान नहीं खरीदेगा।

इसीलिए पहले खुद उत्पाद इस्तेमाल करें और इसमें अपना भरोसा कायम करें इसके बाद भरोसा जम गया तो इसे बेचने के लिए आप किसी हद तक जा सकते हैं।

दिन की पूरी प्लानिंग

एक अच्छा सेल्समेन सुबह अपने घर से बिना प्लानिंग के नहीं निकलता है। ये प्लानिंग दिमाग में नहीं बल्कि रिटेन होती है। सुबह निकलकर सबसे पहले कहा जाना है, किससे मिलना है, क्या बात करनी है, कौन से क्लाइंट से क्या कहना है और शाम तक कितना काम पूरा कर लेना है।

अच्छा सेल्समेन बनना है तो आपके पास लिखित में दिनभर की प्लानिंग होनी चहिये और उसी के हिसाब से आपको काम करना चहिये।

समय पर डिलीवरी (Delivery on Time) : इसमें यह सभी बातें आती है, कि आप कितनी जल्दी किसी ग्राहक के फोन का जवाब देते हैं, किसी प्रोडक्ट को आप कितनी जल्दी कस्टमर तक पहुंचाते हैं। काम करने की स्पीड आपको कंपटीशन से आगे बढ़ने में मदद देती है। किसी भी उत्पाद को ग्राहक तक समय सीमा के अंदर पहुंचाना ग्राहक का आपके प्रति विश्वास को बढ़ाता है।

सर्विस में अपनापन लाना (Familiarity with Service): ग्राहक एक इंसान होता है, नंबर नहीं। ग्राहक व्यक्तिगत रूप से सर्विस चाहते है क्योंकि वह आपकी कंपनी का डाटा या नंबर नहीं है, वे लोग एहसास और भावनाओं से भरे होते हैं इसलिए इनके साथ इज्जत और व्यवहार किए जाने की जरूरत होती है।

शाम को डीएसआर

शाम को डीएसआर यानी की “डेली सेल्स रिपोर्ट” जरूर बनाये। भले आपका बॉस आपसे इसकी डिमांड नहीं करता लेकिन एक अच्छा सेल्समेन खुद ये काम करता है।

दिनभर में कितना काम हुआ, कितना प्रोडक्ट बिका, कम क्यों बिका, कितनी जगह आप गए और इसका आउटपुट कितना रहा।

जब आप ऐसा करेंगे तो आपको अपनी गलतियाँ पकड में आने लगेंगी और आप समझ जायेगे की कैसे ग्राहकों पर काम करना है और किस तरह के ग्राहकों के पास नहीं जाना है।

कस्टमर सपोर्ट

आप ये समझ लीजिए की अच्छा सेल्समेन बनने के लिए आपको “रिपीट कस्टमर” बनाने होंगे यानी की वो कस्टमर जो बार बार आपका माल खरीदें और दूसरो को भी इसके बारे में बताएं।

ऐसा हो इसके लिए जरूरी है की आप कस्टमर सपोर्ट में पूरा ध्यान दें। जिसे आप उत्पाद बेचकर आयें है उससे फीडबैक लेते रहें, कोई भी समस्या होने पर उसका समाधान करें और जरूरत पड़ने पर फिर से विजिट करें।

सामान बेचकर भूल जाने वाला इंसान जिन्दगी भर गलियों में भटकता रहता है।

सच्चाई (Truth) : सेल्स प्रोफेशन में सबसे पहली और सबसे बड़ी चीज है सच्चाई। सच्चाई, इमानदारी के साथ मिलकर जीत दिलाती है आपका व्यवहार ऐसा होना चाहिए जिससे ग्राहक को आप पर भरोसा करना आसान हो जाए। कोई भी ग्राहक आप पर आंख मूंदकर भरोसा तभी कर सकता है जब आपके अंदर सच्चाई हो। किसी ग्राहक को यह पसंद नहीं होता कि कोई उसे झूठ बोलकर बेच। यह बात हमेशा याद रखें कि ईमानदारी और सच्चाई के आधार पर किया गया सेल ग्राहक के हित में होता है।

मिलने पर घबराहट नहीं

एक अच्छा सेल्समेन बनना है तो नए लोगो से मिलने में घबराएं नहीं। कब राह चलता आदमी आपका लॉयल कस्टमर बन जाए आप समझ नहीं जानते।

इसीलिए अधिक से अधिक लोगों से जुड़ाव रखें और लोगो से लगातार मिलते रहें।

हर महीने थोडा ज्यादा

एक अच्छा सेल्समेन बनने के लिए आप महीने के अंत में खुद को ओब्सर्व करें और देखने की पिछले महीने से कितना अधिक या कम बिजनस आपने किया है।

जब आप ऐसा करेंगे तो जरूर तरक्की होगी।

ये हैं एक अच्छे सेल्समेन के गुण। जो इन बातों को फालो करतें है वो महज कुछ दिनों में ही बढ़िया कमाने लग जाते हैं और उन्हें जिंदगीभर सड़को में घूमकर या लोगो के पास जाकर उत्पाद नहीं बेचना होता है। हर एक सेल्समेन को ये टिप्स Salesman Tips and Tricks जरूर फालो करनी चहिये।

घटिया सेल्समैन और अच्छे सेल्समैन में अंतर

घटिया सेल्समैन अच्छा सेल्समैन
  •   पैसे से प्रेरित करता है
  •   अच्छाई और ग्राहक सेवा से प्रेरित करता है
  •   अपना लाभ (Self profit) चाहता है
  •   आपसी लाभ (Matual profit) चाहता है
  •   असफलता के लिए भाग्य को दोष देता है
  •   असफलता का श्रेय स्वयं लेता है
  •   सफलता के लिए पूरा श्रेय खुद को देता है।
  •   सफलता का श्रेय सभी को देता है।
  •   कम से कम काम करता है, जिससे जान छूट जाए
  •   सिद्धांतों से काम करता है
  •   अहंकार से संचालित करता है
  •   परफॉर्मेंस से संचालित करता है
  •   पैसा ही बनाना चाहता है
  •   ग्राहक बनाना चाहता है
  •   जबरदस्ती बेचने की कोशिश करता हैं
  • फायदा उठाता हैं
  •   समझा कर बेचने की कोशिश करता हैं
  • फायदा पहुंचाता हैं

Salesman Ki Salary Kitni Hai?

एक सेल्समैन की सैलरी कम से कम ₹20,000 से शुरू होकर लाखों रुपए महीने तक हो सकती है. असल मायने में देखा जाए तो एक सेल्समैन की सैलरी का कोई अंदाजा लगाना सही नहीं होगा क्योंकि सेल्समैन की सैलरी पर टारगेट होता है |

अगर आप अपने टारगेट को पूरा कर लेता है तो आपकी सैलरी दुगना और चार गुना भी हो सकती है, इसलिए सेल्समैन की सैलरी तय नहीं होती, लेकिन एक sales man को नौकरी करने के लिए जो सैलरी कंपनी द्वारा दी जाती है वह तय होती है |

 

Note: अगर आपको एक अच्छा सेल्समेन बनने के लिए बहुत जरूरी हैं ये बातें – How to be a Good Salesman अच्छा लगे तो जरुर Share कीजिये। 

BFA कोर्स क्या है, और कैसे करें?

बी.ए.एम.एस कोर्स की संपूर्ण जानकारी

बी.सी.ए कोर्स क्या है?

विदेशी भाषा में करियर कैसे बनाएं

mca course details in hindi

अपनी पसंदीदा नौकरी कैसे ढूंढे

ग्रेजुएशन के बाद करें ये बढीया कोर्सेस जॉब होगी पक्की।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular