Thursday, August 18, 2022
Homehindilekhसफलता का रहस्य | safalta ka rahasya

सफलता का रहस्य | safalta ka rahasya

safalta ka rahasya:- हर कोई व्यक्ति सफल बनना चाहता है। लेकिन कम ही लोग ऐसे होते है जिनको सफ़ल होने का तरीका मालूम होता है। सफ़ल होने के लिए सही दिशा में सही प्रयास भी जरुरी है। यदि आप सही दिशा में मेहनत नहीं करेंगे तो आपकी मेहनत बेकार भी जा सकती है। इसलिए हम आज इस लेख में आपको इसी के बारे में बताने जा रहे है।

 

Safalta ka rahasya

सफलता का स्वाद सभी चखना चाहते है। लेकिन ऐसा सभी के लिए संभव नहीं होता खासकर ऐसे लोग जो जागरूकता पूर्ण अपने लक्ष्य का निर्धारण और प्राप्ति के प्रति निरंतर प्रत्यन नहीं करते।

लक्ष्य कैसे बनाएं और उस की प्राप्ति के लिए कैसे जतन करें यह हर किसी के समझ की बात नहीं है। क्योंकि लक्ष्य प्राप्ति का कोई सूत्र नहीं है इसे खुद बनान पड़ता है। और इसमें आपको नीचे बताए कुछ बिन्दु आपकी मदद करेंगें। यदि आप भी सफलता का रहस्य पाना चाहते है तो अंत तक पढ़ें। हो सकता है आप यहाँ कही बातें समझ जाएं और यदि ऐसा होता है तो आप सफलता का रास्ता खुद तय कर पाएंगें।

#  किसी स्किल को सीखना

सफल होने के लिए आपको ऐसी बातें और स्किल का पता होना चाहिए जो दूसरों को न आती हो। यदि आप को  दूसरों से अलग स्किल या जरूरी बातों का पता है तो, आप दूसरों से हमेसा आगे रहेंगें। दूसरों से ज़्यादा सफ़लता प्राप्त कर सकते है।

आपको यह स्किल कहीं से भी मिल सकती है जैसे आपने इसके लिए कोई मेंटर बना रखा है या फिर आपने सक्सेस्फुल  लोगों की आत्मकथा को पढ़ा है या फिर आप इंटरनेट से ऐसा सीखा है जो बहुत ही कम लोग जानते है।

# अपनी नॉलेज को बढ़ाना

सफल होने के लिए आपको अपनी समझ व नॉलेज की हमेसा बढ़ाते रहना होगा। ऐसे में आप ऐसा काम कर सकते है जो दूसरे लोग नहीं कर सकते। यदि आप अपनी नॉलेज को उतना ही रखेंगे जितना दूसरे जानते है तो आप भी वही सब करेंगे जो दूसरे आम लोग करते है।

ज़्यादातर लोग अपनी पढ़ाई और सीखने को स्कूल और कॉलेज तक ही सीमित रखते है। कॉलेज की डिग्री के बाद वो सोचते है उनने सब कुछ जान लिया और उसके बाद ऐसे लोग न्यूट्रल स्टेज में चले जाते है और बहुत ही कम सीखते है जिसके कारण उनका विकास और तरक्की भी रुक जाती है।

आपको सफ़ल होने के लिए कॉलेज के बाद भी लगातार सीखते रहना है। आप यदि सफ़ल लोगों की जीवनी को उठा कर देखेंगे तो आपको पता लगेगा की वो जीवन भर कुछ नया सीखने में लगे रहते है और अपनी नॉलेज को हमेशा बढ़ाते है इसके लिए बहुत से अरबपति किताबें पढ़ने में लगे रहते है।

#  दुनिया का मिज़ाज समझना

आपको सफ़ल और अमीर बनने के लिए दुनिया का ट्रैंड समझना होगा की दुनिया किस तरफ जा रही है।ट्रैंड  समझने से मतलब  है की आने वाले समय में क्या टेक्नोलॉजी आने वाली है या फिर लोगों को आने वाले समय में किस चीज़ की जरुरत पड़ने वाली है।

इसके अलावा कौनसी इंडस्ट्री ग्रो करने वाली है। अगर ये सब आप पहले से ही अंदाज़ा लगा पाते है तो सफ़ल इंसान बन सकते है आपको यह सब भाप कर इस पर काम कर देना है जिससे आप बहुत अमीर बन सकते है। जिस प्रकार जेफ्फ बेज़ोस को बहुत पहले इंटरनेट के अवसर का पता चल चूका था।

जिसकी वजह से उनने अमेज़न कंपनी की नींव रखीं जिसकी वज़ह से आज वो दुनिया के सबसे अमीर आदमी है। यदि आप संसार की आने वाली जरूरतें या ट्रेंड को समझना चाहते है तो आपको सबसे पहले इसके इतिहास के बारे में जानना होगा की यह कहा से शुरू हुई है।

आप किसी भी फील्ड में आने वाले ट्रेंड के लिए उसके इतिहास को पहले अच्छे से जाने। जिस प्रकार यदि आप शेयर मार्किट की फील्ड में है तो उसकी शुरुवात को जाने और यदि आप म्यूजिक इंडस्ट्री में है तो आप उसकी शुरुवात को जाने।

#  बहाना बनाना छोड़ना

आपको सफ़ल इंसान बनने के लिए बहाना बनाना छोड़ना होगा। आजकल लोग अपनी किसी भी असफलता के लिए दुसरो को ज़िम्मेदार ठहराते है कभी इसके लिए अपनी परिस्थिति को ज़िम्मेदार बताते है कभी किसी घटना और कभी अपने परिवार के किसी सदस्य को इसके लिए ज़िम्मेदार मानते है।

आपको यह सब छोड़ना होगा तभी आप सफ़ल इंसान बन पाएंगे। सफल इंसान अपनी जीवन में की गयी सभी गलतियों के लिए ख़ुद को ही ज़िम्मेदार मानता है और उसमे सुधार करके आगे बढ़ जाता है। यदि आप अपनी गलतियों को स्वीकार ही नहीं करेंगे तो उसमे सुधार किस प्रकार करेंगे।

आपके सामने ऐसे न जाने कितने ही ऐसे सफ़ल लोगों का उदाहरण है जिनने न जाने कितनी ही परेशानियों का सामना करने के बावजूद सफ़लता को हासिल किया। देश के पूर्व राष्टपति श्री एपीजे अब्दुल कलाम ने बचपन में बहुत गरीबी का सामना किया इसके बावजूद न केवल वो सफ़ल वैज्ञानिक बने बल्कि देश के राष्टपति भी बने। इसलिए आपको सभी परेशानियों को दूर करते हुए मेहनत करनी चाहिए। 

# कैसे व्यक्तियों से सलाह नहीं लेनी है

यदि आपको किसी भी फील्ड में सफल होना है तो, आपको कभी भी ऐसे व्यक्ति से सलाह नहीं लेनी चाहिए जो न तो सफ़ल हो और जिसने न ही कभी सफ़लता के लिए मेहनत की हो। जिस व्यक्ति ने खुद ही अपने जीवन में कभी न तो मेहनत की है और न ही सफ़लता प्राप्त की है तो ऐसे व्यक्ति से कुछ भी सलाह लेना बेकार है।

आपको सफल व्यक्ति से सलाह लेनी चाहिए जिससे आपको उनके जीवन के अनुभव का पता चले। इसके साथ उन असफ़ल व्यक्तियों से भी सलाह ले सकते है जिनने कोशिश की और असफ़ल हो गए। उनसे आपको यह सीखने को मिलेगा की उनने क्या गलतियाँ की जिसको आपको नहीं करना है।

# हर दिन की योजना बनाना

आपको सफ़ल होने के लिए एक नियम के साथ जीना होगा। आपको अपने हर दिन की योजना बनानी होगी जो आपको सफ़लता की और लेकर जाये। यह योजना आपकी बनायीं हुई है इसके बीच में कोई भी नहीं आ सकता। इसका आपको कड़ाई से पालन करना है।

यदि आपका कोई दोस्त आपके नियम के बीच में आये और बाहर पार्टी में जाने की कहे तो आप उसको साफ़ मना कर दे। सबसे पहले आपकी अपने लक्ष्यों को लेकर बनायीं हुई योजना है।

 # लगातार निर्णय लेना

आपको सफ़ल होने के लिए जीवन में लगातार निर्णय को लेना होगा। निर्णय नहीं लेना भी एक ग़लत निर्णय है। आपको अपनी जिंदगी में सुधार को लेकर और सफ़लता के लिए निर्णय जरुरी है।

जिस प्रकार आपके ऑफिस में नए स्टाफ की जरुरत है और आप नए स्टाफ को चयन करने का निर्णय नहीं लेते तो इससे आपके बिज़नेस में घाटा हो सकता है और यदि दूसरी जगह किसी नयी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है और आप इस टेक्नोलॉजी को अपनाने का निर्णय नहीं लेते तो यह भी गलत निर्णय है।

# आलस्य से दूर रहना

आलस्य मनुष्य का सबसे बड़ा शत्रु है, आपको सफ़ल होने के लिए आलस्य से भी दूर रहना होगा। आपमें चाहे कितनी भी काबिलियत क्यों न हो यदि आप आलस्य करते है तो यह सब ख़राब कर देगा। क्योकि आप आलस्य की वज़ह से अपनी क़ाबिलियत का सही से इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।

इस तरह आपको अपने जीवन में अद्भुत सफ़लता के लिए इन सब नियमों का पालन करना होगा।  आपने हमे इतना समय दिया आपका बहुत धन्येवाद। 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular