Friday, December 9, 2022
HomehindilekhSaturn Planet in Hindi : शनि ग्रह की जानकारी

Saturn Planet in Hindi : शनि ग्रह की जानकारी

Saturn Planet in Hindi जिसे शनि ग्रह के नाम से भी जाना जाता है, सौरमंडल में सूर्य से ग्रहों की श्रंखला में छठा ग्रह है। यह अपने चारो ओर बने रिंग के लिए भी जाना जाता है। ये रिंग इस ग्रह को और भी रोचक और शानदार बना देते है। 

शनि ग्रह सौरमंडल के सभी 8 ग्रहो में दूसरा सबसे बड़ा ग्रह है, बृहस्पति सौरमण्डल का सबसे बड़ा गृह है। और इस ग्रह को आकाश में नग्न आँखों से देखा जा सकता है। 

Saturn Planet के गठन, स्थान, गति, संरचना, जीवन के अस्तित्व इत्यादि से जुड़े बहुत से ऐसे रोचक तथ्य (Saturn in Hindi) विज्ञानिको द्वारा खोजे गए है, जो इस ग्रह हो अन्य सभी ग्रहो से अलग बनाते है। इस लेख के माध्यम से हम Saturn Planet Hindi के उन सभी रोचक तथ्यों के बारे में जानेगे जो इस ग्रह को एक विशेष ग्रह बनाते है। 

Saturn Planet in Hindi 

Saturn Planet

 

1. शनि की घूर्णन दिशा पश्चिम से पूर्व की ओर है, अर्थात शनि गृह की घूर्णन दिशा पृथ्वी के समान है.

2. शनि ग्रह आकार के अनुसार दूसरा सबसे बड़ा ग्रह है. आपकी जानकारी के लिए बता दे सबसे बड़ा ग्रह बृहस्पति ग्रह है.

3. शनि ग्रह के चारो और पाए जाने वाले Ring System के कारण इस ग्रह को सौरमंडल का सबसे आकर्षित ग्रह कहा जाता है.

6. Saturn Planet  के चारो और बने Rings (छल्ले) बहुत पतले है व् इनकी संख्या 7 है, इन्हें Telescope की मदद से आसानी से देखा जा सकता है.

7.  शनि ग्रह पर हवाएं 1800 किमी प्रति घंटे की तेजी (पृथ्वी पर चलने वाली हवाओ से 5 गुना अधिक तेज) से चलती है.

8. Saturn के व्यास को देखते हुए, लगभग 750 पृथ्वी शनि में और 1600 शनि सूर्य के अंदर फिट हो सकते हैं.

9. शनि पर वायुमंडलीय दबाव पृथ्वी की तुलना में 100 गुना अधिक है.

10. Saturn Planet का औसत वेग 9.64 किमी प्रति सेकंड है जबकि पृथ्वी का औसत वेग 30 किमी प्रति सेकंड है.

11. Saturn Planet की सूर्य से दुरी लगभग 1.4 बिलियन किमी (886 मिलियन मील) या 9.5 AU है.

12. Saturn Planet का नाम रोमन पौराणिक कथाओं के अनुसार God Jupiter के पिता के नाम पर रखा गया था.

13. Saturn उन पांच ग्रहों में से एक है जिसे नग्न आंखों से देखा जा सकता है और यह सौरमंडल की पांचवीं सबसे चमकीली वस्तु भी है.

14. शनि का वायुमंडल लगभग 96% हाइड्रोजन और 4% हीलियम से बना है, जिसमें अमोनिया, एसिटिलीन, ईथेन, फॉस्फीन और मीथेन जैसी गैस भी पाई जाती है.

15. Saturn Planet का वायुमंडल 60 किमी तक फैला है और वायुमंडल की सबसे ऊँची परत में, हवा की गति 1,800 किमी घंटा तक पहुँच जाती है.

16. क्या आप जानते है Saturn Planet पर चलने वाली हवाएं सौरमंडल के अन्य सभी ग्रहो पर चलने वाली हवाओ से भी तेज होती है.

17. Saturn Planet की सतह सौरमंडल के अन्य सभी ग्रहों में से सबसे समतल है.

18.  शनि को सूर्य के चारों ओर एक चक्कर लगाने में 29.4 पृथ्वी वर्ष लगते हैं.

19. शनि पर, दिन छोटे होते हैं और पृथ्वी पर इसकी तुलना में वर्ष लंबे होते हैं.

20. शनि ग्रह का चुंबकीय क्षेत्र बेहद शक्तिशाली है, आपकी जानकारी के लिए बता दे शनि का चुंबकीय क्षेत्र पृथ्वी के चुंबकीय क्षेत्र की तुलना में 578 गुना अधिक शक्तिशाली है.

21. 700 ईसा पूर्व के आसपास Assyrian द्वारा सबसे पुराने लिखित रिकॉर्ड में शनि का उल्लेख किया गया था। उन्होंने शनि का नाम, “Star of Ninib” रखा, जो रात के समय आकाश में चमकने वाली एक शक्ति थी.

22. बृहस्पति के Ganymede के बाद सौरप्रणाली में शनि ग्रह का चंद्रमा Titan दूसरा सबसे बड़ा चंद्रमा है, और यह बुध (सौर मंडल के सबसे छोटे ग्रह) से भी बड़ा है.

23. Saturn Planet पर पाई जाने वाली ऋतुएँ शनि ग्रह की स्वयं उत्पन्न की गई  गर्मी से बदलती है, इस ग्रह का मौसम सूर्य पर निर्भर नहीं करता.

24. शनि ग्रह का औसत तापमान  -178 डिग्री सेल्सियस के आस पास रहता है.

शनि ग्रह से जुड़े रोचक तथ्य व् पूरी जानकारी – Saturn Planet Facts in Hindi (25 to 40)

25. सौरमंडल में शनि सबसे कम घनत्व वाला ग्रह है. उदाहरण के तोर पर यह आसानी से पानी के एक पूल में तैर सकता है.

26. क्या आप जानते हैं कि शनि के छल्लों में कई ऐसे कण होते हैं जो धूल के कणों की तरह छोटे और पहाड़ों से भी बड़े हो सकते हैं.

27. विज्ञानिको के अनुसार शनि ग्रह के छल्ले क्षुद्रग्रहों, धूमकेतुओं और चंद्रमाओं से बने है जो कि बड़े पैमाने पर शनि के शक्तिशाली गुरुत्वाकर्षण द्वारा चकनाचूर हो गए थे.

28. Galileo Galile ने पहली बार 1610 में शनि का अवलोकन किया था, तो उन्होंने ग्रह के दोनों ओर एक जोड़ी को देखा, जिसके कारण उन्होंने निष्कर्ष निकाला कि शनि Triangle Planet है, लेकिन समय के अनुसार शनि ग्रह को लेकर विज्ञानिको द्वारा किए गए शोध से ये साफ़ हो गया है गैलीलियो गैलीली ने जिस जोड़ी को देख कर इस ग्रह को त्रिगुणमय ग्रह बताया था, वो वास्तव में शनि ग्रह के छल्ले थे.

29. शनि ग्रह का घनत्व 0.687 ग्राम प्रति घन मीटर व् भूतल क्षेत्र 42,612,133,285  वर्ग किलोमीटर है

30. शनि ग्रह की सतह का गुरुत्वाकर्षण बल 10.4 प्रति सेकंड वर्ग मीटर है और इस ग्रह का पलायन वेग 129,924 किमी / घंटा है.

31. शनि ग्रह का व्यास 120660 किमी और अक्ष का झुकाव 26.7 डिग्री है.

32. शनि ग्रह का आयतन 827,129,915,150,897 घन किलोमीटर व्

द्रव्यमान 568,319,000,000,000,000,000,000,000 Kg है.

33. विज्ञानिको के अनुसार शनि ग्रह के कुल 150 प्राकृतिक उपग्रह हो सकते है जिन में से अभी तक सिर्फ 62 प्राकृतिक उपग्रहों को ही वैज्ञानिक मान्यता मिल पाई है. आपकी जानकारी के लिए बता दे प्राकृतिक उपग्रहों को चंद्रमा के नाम से भी जाना जाता है.

34. शनि का चंद्रमा Titan सौर मंडल का दूसरा सबसे बड़ा चंद्रमा (सबसे बड़ा चंद्रमा गेनीमेड है जोकि बृहस्पति ग्रह का प्राकृतिक उपग्रह है) है. टाइटन की जमी हुई सतह में तरल मीथेन झीलें और एक परिदृश्य है जो जमे हुए नाइट्रोजन से ढका हुआ है.

35. शनि ग्रह के Enceladus चंद्रमा को लेकर NASA के विज्ञानिको का मानना है कि इस चंद्रमा पर एलियन जीवन हो सकता है। इसी कारनवश NASA ने इस चन्द्रमा के पास चक्कर लगा रहे Cassini अंतरिक्ष यान को नष्ट करने का फैसला किया है,

क्युकि भविष्य में यान में आई तकनीकी खराबी के कारण ये अंतरिक्ष यान  Enceladus चंद्रमा व् यह रहने वाले एलियन के जीवन को प्रभावित न कर दे।आपकी जानकारी के लिए बता दे NASA ने इस अंतरिक्ष यान पर $ 3.26 बिलियन का भारी निवेश किया था। 

36. Saturn Planet पर अंडाकार आकार के तूफान आते है जोकि बृहस्पति ग्रह के तुफानो के समान हैं, वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि दक्षिणी ध्रुव पर एक भंवर भी है जो पृथ्वी पर आने वाले तूफानों से मिलता-जुलता है.

37. शनि हल्के पीले रंग का दिखाई देता है क्योंकि इसके ऊपरी वायुमंडल में अमोनिया क्रिस्टल होते हैं, अमोनिया बर्फ की इस सबसे ऊपरी परत के नीचे बादल होते हैं जो मोटे तौर पर पानी की बर्फ के बने होते हैं.

38. अब तक कुल चार अंतरिक्ष यान द्वारा शनि का दौरा किया गया है, ये हैं Pioneer 11, Voyager 1, Voyager 2 और Cassini, कैसिनी ने 1 जुलाई, 2004 को शनि कि कक्षा में प्रवेश किया था.

39. Saturn Planet को एक गैस ग्रह के रूप में भी जाना जाता है, लेकिन कुछ वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि इसमें एक ठोस चट्टानी कोर भी है जो हाइड्रोजन और हीलियम से घिरा हुआ है.

40. शनि का आंतरिक भाग बहुत गर्म है, जिसका तापमान 11,700 ° C (21,000 ° F) तक के स्तर को आसानी से पार कर लेता है.

41. शनि ग्रह सूर्य से प्राप्त होने वाले विकिरण से लगभग 2.5 गुना अधिक विकिरण उत्सर्जित करता है.

42. शनि की औसत कक्षीय दूरी 1.43 x 109 किमी है. इसका अर्थ है कि शनि, औसतन, पृथ्वी से सूर्य की दूरी का लगभग 9.5 गुना है.

यह भी पढ़ें:-
बृहस्पति गृह की जानकारी
पृथ्वी के बारे में रोचक जानकारी
चंद्रमा के बारे में जानकारी
शनि ग्रह की जानकारी
बुध ग्रह की जानकारी
मंगल ग्रह की जानकारी
शुक्र ग्रह की जानकारी
प्लूटो ग्रह से जुड़ी जानकारीयां

मुझे उम्मीद है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। ऐसी ही जानकारी के लिए बने रहें हमारे साथ और हाँ ऐसे शेयर करना जरूर करें। और हमे फेसबुक में फॉलो करें।
आपने हमे इतना समय दिया आपका बहुत धन्येवाद !

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

%d bloggers like this: